इंतज़ाम कर दिया है तुमने रोज़ी रोटी का

इंतज़ाम कर दिया है तुमने रोज़ी रोटी का ।
विश्वकर्मा जी से नक्शा पास करा दे कोठी का ॥

दूर से ही कोठी के दरवाजे पर दिखे गणेश ।
जिनके दर्शन से मिट जाए घर के सभी कलेश ।
Drawing-room और dining hall भी हो उच्च कोटि का ॥
विश्वकर्मा जी से...

कोठी के अंदर बाबा तेरा सुन्दर मंदिर हो ।
सारे देवी देव साथ मंदिर के अंदर हो ।
घर मे रहे प्रकाश बाबा तेरी ज्योति का ॥
विश्वकर्मा जी से...

एक रसोई अलग से हो जहा भोग रोज बन जाए ।
तुझको भोग लगा पहले और बाद हम मिल खाये ।
आँगन में तुलसी का पौदा हो पत्ती छोटी का ॥
विश्वकर्मा जी से...

खड़ी हो बाबा कोठी में एक लम्बी सी गाडी ।
खिली रहे नरसी लख्खा की मन की फुलवारी ।
शोर हमेशा मचा रहे घर पोते पोती का ॥
विश्वकर्मा जी से...
download bhajan lyrics (99 downloads)







मिलते-जुलते भजन...